Breaking News
Home / top / अपने फायदे के लिए कानून ताक पर…..

अपने फायदे के लिए कानून ताक पर…..

NEWS🔍INVESTIGATION / जबलपुर दूसरों को कानून का पाठ सिखाने वाली पुलिस  खुद यदि  उसका  खुलेआम उल्लंघन करें जिसको आप क्या कहेंगे जी हां बात है जबलपुर के माढोताल थाना अंतर्गत आईटीआई के पास स्थित क्षेत्र में उस समय हंगामा खड़ा हो गया जब विजय नगर थाना प्रभारी यू एस सोनी पुलिस बल के साथ एक मकान खाली कराने पहुंच गए। इतना ही नहीं घर में मौजूद महिलाओं के साथ अभद्रता करते हुए  गृहस्थी का सामान निकाल बाहर फेंक दिया।

यदि देखा जाए तो इसी तरह के मामले में मकान खाली कराने की शिकायत लेकर कोई साधारण व्यक्ति थाने जाए तो पुलिस उसे हस्तक्षेप अयोग्य अपराध बता कर उसको धारा 155 की पावती थमा न्यायालय की शरण लेने की बात करती है । परंतु स्वयं के मामले में थाना प्रभारी ने सारे नियम कानून ताक पर रख दिए ।
वहीं पीडि़त शांति यादव के मुताबिक वह आईटीआई के पास एक मकान में किराये से अपने परिवार के साथ रहती हैं। उक्त मकान विजय नगर थाना प्रभारी उमाशंकर का हैं।  थाना प्रभारी स्टाफ के साथ पहुंचे और तुरंत मकान खाली करने को कहने लगे। जब परिजनों ने एक हफ्ते का समय मांगा तो थाना प्रभारी एवं पुलिस कर्मी अभद्रता पर उतारू हो गए एवं गृहस्थी व अन्य सामान घर से निकाल कर बाहर फेंक दिया। परिजनों के मुताबिक थाना प्रभारी के साथ महिला पुलिस भी मौजूद थी जिसने घर की महिलाओं पर लाठियां चलाते हुए सभी को बाहर निकाल दिया। वहीं थाना प्रभारी के मुताबिक उनका तबादला जबलपुर में हो गया जिस कारण वह मकान खाली कराने के लिए परिजनों को पूर्व में भी बोला गया था परंतु वह मकान खाली नहीं कर रहे थे।
बहरहाल जो भी हो , बेशक मकान थाना प्रभारी का था परन्तु उसे कानूनन भी खाली कराया जा सकता था ।
परन्तु
“वर्दी का दम,सबसे ऊपर”

About News Investigation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *