Breaking News
Home / top / नकली दस्वेताज से विधवा की जमीन को दूसरी महिला ने साथी के साथ बेचा

नकली दस्वेताज से विधवा की जमीन को दूसरी महिला ने साथी के साथ बेचा

 

 

 

NEWS🔍INVESTIGATION / आधार, बही नकली बनाकर करा दी रजिस्ट्री

सिहोरा– सिहोरा थाना अंतर्गत ग्राम गोरहा में फर्जी दस्तावेज तैयार करा के जमीन के विक्रय का मामला सामने आया है इस मामले में भूस्वामी के नाम की नकली ऋण पुस्तिका बनवाई गई एवं बही-खाता तैयार कराकर करीब 16 एकड़ को जमीन 18 लाख की कीमत में बेचने की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है जिसकी शिकायत जमीन खरीदने वाले ने जानकारी लगते ही सिहोरा थाने में की है।
जानकारी के अनुसार सिहोरा से 7किमी दूर ग्राम गोरहा में संगीता पति स्व. सतीश त्रिपाठी की 16 एकड़ जमीन इनके नाम पर सरकारी दस्तावेजों में दर्ज है जिसे नरेंद्र तिवारी निवासी ग्राम पटोरी थाना मझौली ने अपनी साथी महिला राधा बाई राजपूत निवासी बेलखाडू की मिलीभगत से फर्जी दस्तावेज तैयार करा कर सिहोरा निवासी अभिषेक गुप्ता को करीब 18 लाख में बेच दी। जमीन क्रयकर्ता अभिषेक गुप्ता को अपने साथ हुई धोखाधडी की जानकारी तब लगी जब वह जमीन पर सीमांकन कराने के लिए मौके पर पहुंचा तब सीमांकन केNEWS🔍INVESTIGATION दौरान उसे पता चला कि जिस महिला ने भू स्वामी बनकर इस जमीन की रजिस्ट्री कराई है वह भूस्वामी महिला नहीं बल्कि फर्जी भूस्वामी है इस मामले में जब अभिषेक नेे और अधिक जानकारी ली तो पता चला कि जिस संगीता त्रिपाठी के नाम यह जमीन है वह यह महिला नहीं है जिसने उसे जमीन की रजिस्ट्री की है अपने साथ हुई धोखाधड़ी की शिकायत अभिषेक गुप्ता ने सिहोरा थाने में दर्ज कराई है जिसकी जांच सिहोरा पुलिस कर रही है।

★यह है मामला-

अभिषेक गुप्ता ने सिहोरा थाने में शिकायत दर्ज कराते हुए बताया कि करीब एक माह पूर्व उसके पास नरेंद्र तिवारी ग्राम पटोरी निवासी थाना मझोली आया और उसने गौरहा में करीब 16 एकड़ असिंचित जमीन की चर्चा की। चर्चा के दौरान उसने सारे दस्तावेज भी दिखाएं दाम ज्यादा होने के कारण जमीन की रजिस्ट्री NEWS🔍INVESTIGATION नहीं हो सकी लेकिन नरेंद्र लगातार अभिषेक के संपर्क में बना रहा मार्च क्लोजिंग का हवाला देते हुए नरेंद्र तिवारी ने अभिषेक को जमीन खरीदने के लिए दबाव बनाया जिस पर अभिषेक तैयार हो गया मामला करीब सवा लाख रूपए एकड़ पर फिक्स हो गया जिसकी रजिस्ट्री 28 मार्च को सिहोरा रजिस्ट्रार कार्यालय में हुई अभिषेक ने बताया कि जमीन बिक्री के समय उक्त महिला भूस्वामी के रूप में जिसे नरेंद्र फर्जी तरीके से संगीता त्रिपाठी बनाकर लाया था ।
★ऐसे रची गई साजिश
भूमि स्वामी संगीता पति स्व. सतीश त्रिपाठी है जिसकी जानकारी धोखाधड़ी करने वाले नरेंद्र तिवारी को गांव आते जाते रहने की वजह से थी ,NEWS🔍INVESTIGATIONभूस्वामी महिला गांव में निवास नही करती और जबलपुर में निवासरत होने की वजह से इस पूरे धोखाधड़ी के मामले की जानकारी भी तुरन्त नही लग सकी। जबकि इन जालसाज नरेंद्र तिवारी और महिला साथी राधा बाई ने पहले तो नकली दस्तवेज तैयार करने आधार कार्ड में फोटो बदली और ऋण पुस्तिका भी फ़ोटो बदलकर खुद को वही महिला साबित करने साजिश रची , रजिस्ट्री के दौरान इन जालसाजों ने अपने साथ गांव से ही कोई दो गवाह भी लेकर आये थे। वहीं यह भी जानकारी लग रही है कि इस बड़ी जालसाजी में राजस्व के कुछ कर्मचारी भी शामिल हैं। जिसकी पुलिस छानबीन कर रही है।

About News Investigation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *